nightfall ko rokne ka upay

स्वप्नदोष (Nightfall) के कारण और रोकने के आसान उपाय

आज हम स्वप्नदोष (Nightfall) के बारे में बात करेंगे। स्वप्नदोष कोई दोष नहीं बल्कि यह एक शारीरिक क्रिया होती है जो ज्यादातर कम उम्र के पुरुषों में पाई जाती है। इसका समय पर उपचार करना जरूरी होता है नहीं तो यह एक गंभीर समस्या बन सकती है। आइये जाने स्वप्नदोष क्या है इसके लक्षण,कारण और उपचार के बारे में।

स्वप्नदोष क्या है?

रात में सोते समय जनेन्द्रियों का उत्तेजित होकर वीर्य का स्खलन होने को स्वप्नदोष कहा जाता है जिसे Nightfall भी कहते है। स्वप्नदोष की समस्या पुरुषों और महिलाओं दोनों में पाई जाती है लेकिन यह आमतौर पर पुरुषों और कम उम्र के युवाओं में ज्यादा पाई जाती है। महीने में 2 या 3 बार स्वप्नदोष होना आम बात है लेकिन अगर इससे ज्यादा बार होता है तो यह बीमारी होती है। यदि अधिक स्वप्नदोष हो तो इसका इलाज करना जरुरी होता है वर्ना इसका शारीरिक और मानसिक विकास पर बुरा प्रभाव पड़ता है। 

swapandosh kya hai

स्वप्नदोष(Nightfall) के लक्षणः- 

  • अनिद्रा
  • बेचैनी होना
  • शीघ्रपतन की समस्या होना
  • पेशाब करने में कठिनाई होना
  • शरीर में कमजोरी और सुस्ती महसूस होना
  • पेशाब करने पर लसदार स्राव का निकलना
  • सिर में दर्द रहना
  • कमर में दर्द रहना 

स्वप्नदोष (Nightfall) होने के कारण:- 

  1. ब्ल्यूफ़िल्म देखने के कारण स्वप्नदोष की समस्या हो सकता है किसी भी प्रकार की बब्ल्यूफ़िल्म, ऑडियो और वीडियो देखने से उत्तेजना बढ़ जाती है जिससे स्वप्नदोष की समस्या होने की सम्भावना बनी रहती है। फिल्मों में युवाओं को भद्दे तरीके से आकर्षित करने के लिए नर-नारी लैंगिक सम्बन्ध पर ज़ोर दिया जाता है जो स्वप्नदोष की समस्या के होने का कारण बन जाता है।
  2. हस्तमैथुन के कारण भी स्वप्नदोष की समस्या बनी रहती है यह शारीरिक से सम्बन्धित एक सामान्य प्रक्रिया होती है जिसे युवक यौन संतुष्टि हेतु कभी कभी करते है। जो युवक हस्तमैथुन जैसे अनुचित गतिविधियों में लिप्त रहते है उनके वीर्य के साथ शरीर से पोषक तत्त्व भी बाहर निकल जाते है।
  3. अधिक जले-तले या नमक-मिर्च और मसाले वाले खाद्य पदार्थ व पेय का उपयोग करने से भी स्वप्नदोष की समस्या बनी रहती है।
  4. अधिक समय तक पेशाब रोके रहने के कारण भी स्वप्नदोष की समस्या बनी रहती है। अधिक भरी हुई प्रोस्टेट ग्रंथि और भावनाओं को कंट्रोल करने में असमर्थ होने के कारण अक्सर स्वप्नदोष की समस्या बनी रहती है।
  5. नसों का कमजोर होना. और मोटापा अधिक होने के कारण भी स्वप्नदोष की समस्या बनी रहती है। 
स्वप्नदोष को कैसे रोके

स्वप्नदोष के नुकसान- 

स्वप्नदोष उन पुरुषों में अधिक होती है जो हस्तमैथुन करते है हस्तमैथुन शरीर को ज्यादा नुकसान पहुंचा सकता है। यह यौन शारीरिक या मानसिक कमजोरी का कारण बनता है। यदि स्वप्नदोष की समस्या नियमित होती है और लम्बे समय तक बनी रहती है तो इससे निम्नलीखित नुकसान हो सकते हैं:-

  • स्वप्नदोष के कारण बच्चे पैदा करने में असमर्थता बनी रहती है।
  • इसके कारण शुक्राणुओं की संख्या में कमी आ सकती है। 
  • इसके कारण यादास्त की समस्या और दृष्टि की समस्या होने की सम्भावना बनी रहती है।
  • इसके कारण चक्कर आना घुटने में दर्द और अनिद्रा की समस्या बनी रहती है।

स्वप्नदोष रोकने के घरेलु उपाय (Home remedies to stop nightfall) 

स्वप्नदोष को दूर करने के लिए बाजार में बहुत से उत्पाद उपलब्ध है लेकिन किसी भी प्रकार की स्वप्नदोष की दवा का उपयोग करने से पहले डॉक्टर की सलाह जरूर लेनी चाहिए। स्वप्नदोष को दूर करने के लिए सबसे अच्छा उपचार घरेलू और आयुर्वेदिक उपचार होता है। यह बिना किसी दुष्प्रभाव के स्वप्नदोष की समस्या को दूर करने में मदद करता है। निम्नलिखित उपचार को अपनाकर स्वप्नदोष को दूर किया जा सकता है:-

swapandosh ko thik karne ka upay

अनार और शहद का उपयोग:- प्रतिदिन अनार और शहद का सेवन करने से स्वप्नदोष को दूर किया जा सकता है। अनार के छिलके को पीसकर उसका पाउडर बना लें। इसके बाद एक चम्मच अनार के पाउडर में थोड़ा सा शहद मिलाकर खा लें। यह उपाय आपको 1 से 2 महीने तक करना चाहिए ऐसा करने से आपको लाभ मिलेगा। 

लहसुन का उपयोग:- लहसुन स्वप्नदोष को दूर करने में बहुत मददगार होता है। रोज़ाना सोने से पहले लहसुन की एक कली चबाकर खाने के बाद पानी पीने से स्वप्नदोष की समस्या को दूर किया जा सकता है। लहसुन पुरुषों में शुक्राणुओं की संख्या बढ़ाने के लिए भी बहुत उपयोगी है। 

केला और दूध का उपयोग:- केला और दूध स्वप्नदोष को दूर करने में बहुत सहायक होते है यह स्वप्नदोष की समस्या को जड़ से दूर कर के वीर्य की मात्रा में वृद्धि करते है केले में शहद मिलाकर रोज़ाना सुबह सूर्योदय होने से पहले खाने से स्वपनदोष से छुटकारा पाया जा सकता है।

सूखा धनिया और मिश्री का उपयोग:- सूखा धनिया और मिश्री भी स्वप्नदोष की समस्या को दूर करने में सहायक है। सूखा धनिया और मिश्री को बराबर मात्रा में मिलाकर दोनों को कूटकर चूर्ण बना लें और रोज़ाना सुबह और शाम को एक चम्मच पानी के साथ खाने से स्वप्नदोष को दूर किया जा सकता है।

आंवला का उपयोग:- आंवला का उपयोग करने से स्वप्नदोष को दूर किया जा सकता है। यह शरीर की प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में मदद करता है और वीर्य की मात्रा को बढ़ाता है। एक गिलास आंवले का जूस पीने से स्वप्नदोष की समस्या को दूर किया जा सकता है। 

नियमित व्यायाम करना:- रोज़ाना व्यायाम करने से स्वप्नदोष को दूर किया जा सकता है। एक्सरसाइज करने से सभी सेक्स समस्या को जड़ से दूर किया जा सकता है यह लिंग समस्या का समाधान करने में बहुत सहायक होता है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *