Shighrapatan ki dawa

जानिए शीघ्रपतन (Premature Ejaculation) के लक्षण, कारण और आयुर्वेदिक इलाज

शीघ्रपतन कोई रोग नहीं है लेकिन यह एक बड़ी शारीरिक समस्या बन गई है। शीघ्रपतन एक प्रकार का यौन रोग है। यह पुरुषों की सेक्स जीवन की गुणवत्ता को प्रभावित कर सकता है। यह सबसे आम यौन रोग या समस्या है। शीघ्रपतन का समय पर उपचार करना जरूरी होता है। आज हम इस ब्लॉग में शीघ्रपतन के लक्षण, कारण और घरेलू उपचार के बारे में बात करेंगे।  

शीघ्रपतन (Premature Ejaculation) क्या है? 

शीघ्रपतन पुरुषों में होने वाली एक प्रकार की यौन समस्या होती है। संभोग के समय चरम सुख पर पहुंचने से पहले ही पुरुष का वीर्य निकल जाना ही शीघ्रपतन (Premature Ejaculation) कहलाता है। शीघ्रपतन का सेक्स जीवन पर बुरा प्रभाव पड़ता है। इस समस्या का समय पर उपाय करना जरूरी होता है। 

Shighrapatan Kya hai

आजकल लोगों के मानसिक तनाव और बेकार खानपान की वजह से उनके जीवन में सेक्स संबंधी कई प्रकार की समस्याएं होने लगी हैं। इन्हीं समस्याओं में से एक शीघ्रपतन (Premature Ejaculation) की समस्या है। यदि आपको अपनी सेक्स लाइफ को बेहतर बनाना है तो आपको मानसिक और शारीरिक रूप से स्वस्थ होना जरूरी है। 

भारत में लगभग 30 से 40 प्रतिशत पुरुषों में शीघ्रपतन की समस्या पाई जाती है। बाजार में सेक्स समस्या को दूर करने के लिए कई प्रकार की सेक्स पावर कैप्सूल और दवाइयां उपलब्ध है लेकिन बिना डॉक्टर के सलाह के किसी भी प्रकार की दवा का सेवन नहीं करना चाहिए। शीघ्रपतन के इलाज के लिए आप आयुर्वेदिक और घरेलू तरीके को अपना सकते है। आयुर्वेद में कई उपाय बताए गए है जिससे आप शीघ्रपतन की समस्या का घरेलू इलाज कर सकते है। 

शीघ्रपतन के लक्षण (Symptoms of Premature Ejaculation)

  • सेक्स क्रिया शुरू होते ही या होने से पहले ही वीर्य का निकल जाना।
  • सेक्स की इच्छा कम होना।
  • संभोग के बाद यह महसूस होना कि आप अपने साथी को संतुष्ट नहीं कर पाए।
  • सेक्स से पहले ही मन में शीघ्रपतन का डर होना।
  • कई बार प्रयास करने के बाद भी सेक्स के समय वीर्य को 1 मिनट तक न रोक पाना।

शीघ्रपतन होने के कारण (Causes of Premature Ejaculation)

shighrapatan ke karan

मानसिक तनाव होने की वजह से सेक्स हार्मोन जैसे-टेस्टोरोन हार्मोन आदि असंतुलित हो जाते हैं। इसके कारण शीघ्रपतन की समस्या हो सकती है। शीघ्रपतन की समस्या निम्न कारणों से हो सकती है:-

  • मानसिक तनाव होना। 
  • समय से पहले वीर्य का निकल जाना। 
  • शरीर में हार्मोन्स का असंतुलित होना। 
  • शारीरिक या मानसिक दुर्बलता।
  • मूत्रमार्ग में संक्रमण होना।
  • स्तंभन दोष (Erectile Dysfunction) की समस्या होना।
  • मधुमेह की समस्या होना।
  • हस्तमैथुन के कारण अधिक वीर्य का क्षति होना।  
  • अधिक शराब का सेवन करना।
  • नशीले पदार्थों जैसे अफीम, चरस आदि का सेवन करना। 
  • धूम्रपान करना। 
  • डॉक्टर की सलाह के बिना किसी प्रकार की दवा का सेवन करना।
  • जंक फूड जैसे पिज्जा बर्गर और पेस्ट्री आदि ज्यादा खाना। 

शीघ्रपतन का घरेलू और आयुर्वेदिक उपचार (Home Remedies for Premeture Ejacualtion)

shighrapatan ka ilaj
  • अश्वगंधा का सेवन:- अश्वगंधा किसी भी प्रकार की यौन समस्या को दूर करने में बहुत मददगार है। यह शरीर की ताकत और ऊर्जा को बढ़ाने में सहायक है। यह शरीर में हार्मोन्स को संतुलित रखता है इसका उपयोग शीघ्रपतन और नपुंसकता के इलाज में भी बहुत सहायक साबित होता है। अश्वगंधा लिंग की समस्या को भी दूर करने में बहुत मदद करता है। अश्वगंधा को लिंग वृद्धि के लिए उचित उपचार माना जाता है क्योंकि यह लिंग के आकार को बढ़ाने में बहुत सहायक होता है। 
  • सफेद मूसली का सेवन:- शीघ्रपतन की समस्या को दूर करने के लिए सफेद मूसली का उपयोग सबसे अच्छा घरेलू उपाय है। सफेद मूसली का पाउडर एक चम्मच रोजाना दूध में मिलकर पिने से वीर्य गाढ़ा होता है और सेक्स टाइम भी बढ़ता है इसका उपयोग करने से शीघ्रपतन और नपुंसकता की समस्या से छुटकारा पाया जा सकता है। 
  • इलायची का सेवन:- इलायची के सेवन से शीघ्रपतन की समस्या को दूर किया जा सकता है। रोजाना सुबह 2 छोटी इलायची चबाएं। एक केला और 100 ग्राम खजूर खाकर मिश्री मिला हुआ गरम दूध पिए। इससे वीर्य और सेक्स शक्ति में वृद्धि होती है और कामोत्तेजना उत्पन्न होती है। 
  • बादाम का सेवन:- शीघ्रपतन की समस्या दूर करने में बादाम बहुत फायदेमंद है ऐसे आहार जो शरीर को ऊर्जा प्रदान करते हैं, उन पदार्थ को आहार में शामिल करें जैसे बादाम, किशमिश, दूध, मुलेठी और काले चने आदि। इन सभी आहार का सेवन करने से सेक्स शक्ति और ऊर्जा में वृद्धि होती है। 
  • प्याज का सेवन:- शीघ्रपतन की समस्या को दूर करने में प्याज का सेवन करना सबसे बेहतर उपाय माना जाता है। हरा और सामान्य प्याज दोनों शीघ्रपतन के लिए सबसे ज्यादा फायदेमंद होते हैं। 
  • अदरक का सेवन:- अदरक का प्रयोग करने से शीघ्रपतन की समस्या को जड़ से दूर किया जा सकता है। रात में सोने से पहले एक छोटा चम्मच शहद और एक छोटा चम्मच अदरक के पेस्ट को मिलाकर चाटें। ऐसा करने से शरीर में ऊर्जा बढ़ती है और खून का प्रवाह बढ़ता है। यह शीघ्रपतन से छुटकारा पाने का सबसे आसान घरेलू उपचार है। 
  • अंडे का सेवन:- अंडा शीघ्रपतन की समस्या को दूर करने में बहुत सहायक होता है क्योंकि अंडे में कोलेस्ट्रॉल पाया जाता है जो सेक्स हार्मोन को संतुलित रखता है। आप अपने खाने में अंडे का उपयोग कर सकते है। 
  • व्यायाम करना:- व्यायाम सेहत के लिए बहुत ही लाभदायक होता है यह शरीर को फिट रखता है और बीमारियों को भी दूर रखता है इसलिए रोजाना कुछ समय निकल के व्यायाम जरूर करना चाहिए। व्यायाम कई प्रकार की यौन समस्या को भी दूर करने में मदद करता है यह शीघ्रपतन और नपुंसकता की समस्या को दूर करने का सबसे बेहतर उपाय हैं। 

और पढ़ें: नपुंसकता (Erectile Dysfunction) का आयुर्वेदिक इलाज

यदि घरेलू और आयुर्वेदिक उपचारों को आजमाने के बाद भी शीघ्रपतन की समस्या बनी रहे तो आपको डॉक्टर से परामर्श करना चाहिए। कभी भी खुद से किसी प्रकार की दवा का उपयोग और झोलाछाप डाक्टरों व हकीमों के चक्कर में नहीं पड़ना चाहिए। आप किसी भी प्रकार की सेक्स समस्याओं के समाधान के लिए हमारे डॉक्टर से परामर्श कर सकते है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *