Erectile-Dysfunction ko dur karne ka upay

स्तंभन दोष, नपुंसकता (Erectile Dysfunction) – लक्षण, कारण और आयुर्वेदिक इलाज

पुरुषों के लिए सबसे बुरा वक़्त तब होता है जब वह अपनी पुरूषत्वता को खो देता है। यह तब होता है जब पुरुष स्तंभन दोष (Erectile dysfunction)की समस्या से पीड़ित हो जाते है। स्तंभन दोष पुरुषों में होने वाली एक आम यौन समस्या होती है। व्यस्त और अस्वस्थ जीवनशैली के चलते पुरुषों में स्तंभन दोष की समस्या बढ़ती जा रही है। इस ब्लॉग में हम स्तंभन दोष के लक्षण, कारण और आयुर्वेदिक उपचार के बारे में चर्चा करेंगे।

स्तंभन दोष, नपुंसकता क्या है? (What is Erectile Dysfunction in Hindi)

जब कोई पुरुष खुद को सेक्स के समय तैयार नहीं कर पाता या उसका वीर्य निकलने में परेशानी होती है तो उस स्थिति को स्तंभन दोष (Erectile dysfunction) कहते हैं। इस समस्या को नपुंसकता भी कहा जाता है।

पुरुषों में सेक्स के समय कभी कभी वीर्य के निकलने में देरी या परेशानी हो रही हो तो यह रोग नहीं होता लेकिन अगर यह समस्या हमेशा ही लगातार हो तो स्तंभन दोष होने की सम्भावना होती हैं।

नपुंसकता-Erectile-dysfunction-क्या-है

भारत में 40 साल से ज्यादा उम्र के कम से कम 30% पुरुषो में यह समस्या पाई जाती है लेकिन चिंता की बात यह है कि यह संख्या बढ़ती जा रही है अब कम उम्र के पुरुषों में यह समस्या होने लगी है। यह हृदय रोग जैसे एक अंतर्निहित स्वास्थ्य मुद्दे के कारण हो सकता है। वीर्य का बहुत देर में निकलना, कम निकलना और न निकलना, पुरुषों के लिए तनाव, आत्मविश्वास की कमी और शादीशुदा जीवन में तनाव भर देता है।

सेक्स के समय वीर्य का न बनना या न निकलना गंभीर शारीरिक स्थिति की ओर संकेत भी करता है। इस समस्या पर ध्यान देते हुए फौरन इलाज करवाना चाहिए और डॉक्टर से परामर्श करना चाहिए।

नपुंसकता के लक्षण (Symptoms of Impotence in Hindi)

  • इरेक्शन और लिंग का उत्तेजित न होना 
  • लिंग को मजबूत और इरेक्ट बनाए रखने में समस्या होना 
  • कामेच्छा (libido) का कम हो जाना 
  • शरीर पर काम बालों का आना 
  • वज़न का अधिक बढ़ना 
  • शीघ्रपतन की समस्या 
  • सेक्स की इच्छा कम होना 

नपुंसकता (Impotence) कभी कभी हृदय रोग संबंधी समस्या का संकेत देता है स्तंभन दोष संतोषजनक संभोग करने में परेशानी डालता है।

स्तंभन-दोष-Erectile-Dysfunction-के-कारण

स्तंभन दोष, नपुंसकता के कारण (Causes of Erectile Dysfunction in Hindi)

नपुंसकता (Impotence) के दो शारीरिक और मानसिक कारण होते है।

शारीरिक कारण:- 

  • हार्मोन की समस्या का होना।
  • पहले कराई सर्जरी के कारण या चोट लगने के कारण। 
  • लिंग की नसों में जाने वाला रक्त वाहिकाओं का संकुचित होना, जो सीधे तौर पर मधुमेह, हाई ब्लड प्रेशर और हाई कोलेस्ट्रॉल के कारण हो सकता है।  

मानसिक कारण:- 

  • चिंता 
  • डिप्रेशन
  • रिश्ते को लेकर समस्या 
  • चिंता और डिप्रेशन जैसे मानसिक मुद्दे कामेच्छा को प्रभावित करते हैं जिसके परिणामस्वरूप स्तंभन दोष होता है। मानसिक समस्याएं स्तंभन दोष का एक प्रमुख कारण बन जाती हैं।
  • बढ़ती उम्र भी नपुंसकता का कारण बन सकती है उम्र के बढ़ने पर पुरुष की सेक्स के प्रति इच्छा कम हो जाती है।
  • शराब का अत्याधिक सेवन करना भी स्तंभन दोष का कारण बन सकता है। इससे पुरुषों में शुक्राणुओं की संख्या पर भी प्रभाव पड़ता है। 

नपुंसकता का रोकथाम (Impotence Prevention in Hindi)

  • अपनी मर्जी से नपुंसकता की दवा का सेवन न करें। 
  • अपने पेट के वजन को नियंत्रित करें।
  • धूम्रपान न करें।
  • अत्याधिक तनाव में न रहे।

स्तंभन दोष, नपुंसकता के घरेलु और आयुर्वेदिक उपचार (Home and Ayurvedic Remedies for Erectile Dysfunction)

स्तंभन-दोष-नपुंसकता-के-घरेलु-और-आयुर्वेदिक-उपाय

लहसुन का उपयोग:-

नपुंसकता से छुटकारा पाने के लिए लहसुन बहुत उपयोगी माना जाता है क्योंकि लहसुन में एलिसिन होता है रक्त के प्रवाह को बढ़ाता है जिससे स्तंभन दोष की समस्या को दूर किया जा सकता है। यह लिंग समस्या का समाधान करने में बहुत सहायक होता है। रोज़ाना लहसुन के 2 से 3 कली चबाकर खाएं।

बादाम का उपयोग:-

स्तंभन दोष, नपुंसकता को दूर करने में बादाम बहुत मदद करता है लोग बादाम को हजारो सालो से उपयोग करते आ रहे है बादाम वजन को कम करने में भी मदद करते है यह रक्त के प्रवाह को बढ़ावा देता है।

1 गिलास पानी में एक बड़ा चम्मच बादाम का पाउडर मिलाएं और रात को सोने से पहले पी लें। यह उपाय कुछ महीनो के लिए आज़माए आपको नपुंसकता की समस्या से छुटकारा मिलेगा।

प्याज का उपयोग:- 

प्याज स्तंभन दोष को दूर करने में सहायक होता है इसमें कामोत्तेजक गुण होते है। दो प्याज बारीक काट ले और 2 कप पानी में 10 मिनट के लिए गर्म होने के लिए रख दे इस पानी को 1 महीने तक रोजाना पिएं। ऐसा करने से स्तंभन दोष की समस्या को दूर किया जा सकता है।

गाजर का उपयोग:-

स्तंभन दोष, नपुंसकता को दूर करने के लिए गाजर को सबसे अच्छा उपाय माना जाता है। 3 गाजर, 1 मध्यम आकार का चुकंदर का आधा भाग, 3 अजवाइन डंठल को एक जूसर में मिश्रण कर ले और दिन में २ बार 1 गिलास पिएं।

अनार का उपयोग:-

पुरुषों में नपुंसकता की समस्या को दूर करने में अनार बहुत मदद करता है। यह एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होता है यह रक्त के प्रवाह को बढ़ाने में मदद करता है। अनार शरीर में ऑक्साइड और नाइट्राइट के स्तर को बढ़ाने में मदद करता है। यह तनाव को भी कम करने में सहायक है। रोजाना 1 गिलास अनार का जूस पिएं।

रोजाना व्यायाम करना:-

नियमित व्यायाम करने से शरीर स्वस्थ रहता है पैल्विक फ्लोर मांसपेशियों के अभ्यास करने से पुरुषों में लिंग के फंक्शन में सुधार किया जा सकता है। व्यायाम किसी भी बीमारी को ठीक करने का सबसे अच्छा उपाय होता है। इसके अलावा किसी भी प्रकार की मानसिक तनाव से दूर रहे। 

इन सभी घरेलु उपाय को अपनाने से स्तंभन दोष, नपुंसकता (erectile dysfunction) की समस्या को ठीक किया जा सकता है। अधिक जानकारी के लिए आपको डॉक्टर से परामर्श करना चाहिए। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *