छोटे लिंग को बड़ा करने के तरीके

आज इंटरनेट पर कई वेबसाइट्स ling bdhane ka tarika व लिंग को लंबा करने की विधि को लेकर कई दावे करती हैं। लेकिन यह दावे करने वाली सभी वेबसाइट क्या सच कहती होगी? इस बारे में सभी लोग असमंजस में रहते हैं। भारतीय पुरुषों के बीच लिंग के आकार को लेकर कई तरह की भ्रांतियां फैली हुई है।

वहीं लोग कुछ गलत तरीकों को अपनाकर अपने लिंग के साइज को बढ़ाने के उपाय खोजते रहते हैं। पुरुषों में इस अंग को बढ़ाने की उत्सुकता के चलते ही लिंग बढ़ाने की दवाओं व उत्पादों का बाजार आज अरबों रुपयों पर पहुंच गया है।

विशेषज्ञों का मनना हैं कि अपने लिंग को छोटा मानकर तनाव में रहने वाले अधिकतर पुरुषों के लिंग की लंबाई सामान्य ही होती है। वहीं विशेषज्ञों का यह भी कहना है कि लिंग बढ़ाने व लंबा करने की दवाओं का इस्तेमाल करने से पहले पुरुषों को उस विषय पर डॉक्टरों से सहाल ले लेनी चाहिए।

दरअसल, लिंग का आकार आपके शरीर के अनुसार ही होता है। लिंग के आकार को लेकर आप परेशान हैं, तो आपको किसी विशेषज्ञ के पास जाकर काउसिलिंग करवानी चाहिए। वह आपकी समस्या की सही वजह बता पाएंगे। वैसे तो ling ke aakar ko bdhane ke upaye कम हैं लेकिन आप फिट रहकर और वजन को कम करके भी इस काम को आसान बना सकते हैं।

लिंग का आकार कितना होता है?

किशोरों में लिंग की लंबाई का औसत आधार नहीं मापा जा सकता है, क्योंकि यह हर किसी के बढ़ने की प्रक्रिया अलग होती है। 

पुरुषों पर किये गए एक अध्ययन के मुताबिक पुरुषों के लिंग की औसत लंबाई निम्नतः पाई गई-

  1. बिना तनाव व उत्तेजना (erection) के लंबाई(8.12)सेंटीमीटर(3.2 इंच) सामान्य स्थिति में
  2. बिना तनाव व उत्तेजना के मोटाई(9.14)सेंटीमीटर(3.6इंच)
  3. तनाव व उत्तेजना के बाद लंबाई(13.01)सेंटीमीटर(5.1 इंच)
  4. तनाव व उत्तेजना के बाद मोटाई(11.46)सेंटीमीटर(4.5 इंच)

तनावपूर्ण लिंग के आकार कई प्रकार के होते हैं। कुछ के तनाव सीधे होते हैं, जबकि कई लोगों के तनाव के बाद लिंग का साइज(आकार) थोड़ा नीचे की ओर रहता है। वहीं कुछ के दाईं तो कुछ के बाईं ओर झुके हुए होते हैं। अगर यह झुकाव ज्यादा होता है तो आपको सेक्स के दौरान दर्द व मुश्किल हो सकती है

हर व्यक्ति की उम्र के अनुसार वृद्धि होने की प्रक्रिया भिन्न होती है। इसके साथ ही उनके लिंग की लंबाई भी अलग-अलग होती है। व्यस्क होने के दौरान 11 से 18 वर्ष की उम्र में लिंग के आकार में तेजी से वृद्धि होती है और इसके बढ़ने का सिलसिला 21 वर्ष तक निरंतर चलता रहता है।

क्या ling ka size महत्व रखता है?

लिंग के आकार को लेकर पुरुषों में मन अपने साथी को संतुष्ट कर पाने का डर बैठा रहता है। कुछ पुरुष कपड़े उतारने के बाद खुद के लिंग के आकार को लेकर भी चिंतित रहते हैं।

भारत के पुरुषों में लिंग का साइज उनके आत्मविश्वास और शरीर की मर्दानगी का प्रतीक समझा जाता है, जो एकदम गलत धारणा है। आपको भारतीय पुरुषों के लिंग के आकार की औसत लंबाई हम ऊपर बता ही चुके है। ling ka size महत्व नहीं रखता, बल्कि एहम बात यह होती है कि आप अपने साथी को संतुष्ट कर सकते हैं कि नहीं। तो अपने लिंग के आकार पर नहीं बल्कि अपनी यौन तकनीक पर ज़्यादा ध्यान दें।

जिन पुरुषों के लिंग का आकार छोटा होता है वह तनाव में आ जाते हैं। मानसिक रूप से तनाव में आने के कारण पुरुषों को स्तंभन दोष नपुंसकता(erectile dysfunction)होने की संभावनाएं बढ़ जाती हैं। इसके साथ ही वह कई अन्य तरह के यौन रोगों से भी पीड़ित हो जाते हैं। अगर आप भी इस तरह की परेशानी से ग्रस्त हैं तो आपको किसी डॉक्टर से काउंसिलिंग करने की जरूरत होती है।

लिंग bdhane के घरेलू, प्राकृतिक उपाय और dawa

Ling ka aakar bdhane k trike तो बहुत है, लेकिन कुछ काम करते है, तो कुछ नहीं। अगर आप अपने ling ko lamba or mota करने के तरीके खोज रहें हैं तो कुछ औषधियां आपकी मदद कर सकती हैं। यह औषधियां आपके लिंग के आस-पास के हिस्से में रक्त संचार को बढ़ाती है, जिससे तनाव व उत्तेजना के समय आपका लिंग पूरी तरह से उत्तेजित हो पाता है। इसके अलावा आप लिंग बड़ा करने के लिए योगा, खान-पान में बदलाव व कुछ एक्सरसाइज की आदत से लाभ पा सकते हैं। 

तो जानते इन औषधियों के बारे में जो आपके लिंग लंबा करने की विधि में काम आती हैं।

गोखरू:- गोखरू एक स्वदेशी औषधी है और यह गर्म क्षेत्रों में पाई जाती है। हमारे देश में यह जड़ी बूटी आयुर्वेद में प्राचीन काल से ही प्रयोग में लाई जाती रही है। इसको शरीर की मजबूती व कमजोरी को दूर करने के लिए सदियों से इस्तेमाल किया जा रहा है।

इस पर कई तरह के अध्ययन किए गए है जिनमें पाया गया कि गोखरू टेस्टोस्टेरोन के स्तर को बढ़ात है। टेस्टोस्टेरोन पुरुष की यौन शक्ति लिंग के आकार व उसकी कठोरता को बढ़ाने वाले हार्मोन होते हैं।

जिनसेंग(Ginseng):- जिनसेंग दक्षिणी कोरिया, साइबेरिया व उत्तरी कोरिया में पाई जाने वाली औषधी है। इस जूड़ी बूटी में मौजूद तत्व हमारी नसों को ठीक करने का काम करते हैं।

कुछ अध्ययन में पाया गया है कि यह यौन क्रिया में आने वाली परेशानियों को दूर करने के लिए फायदेमंद होते हैं, जबकि इसके फायदों को लेकर चिकित्सा जगत में कोई ठोस आधार मौजूद नहीं हैं।

जिनसेंग को कई दवाइयों में प्रयोग किया जाता है। इससे कैंसर, हृदय रोग,अनिद्रा व अन्य विकार होने की संभावनाए भी होती है। इस कारण इसको नियमित रूप से लेने से पहले आपको किसी डॉक्टर की सलाह ले लेनी चाहिए।

​अगर आप इस दवा को लेने वाले हों तो आपको इस दवा के लेबल या पैकेट पर कोरियन जिनसेंग रूट लिखा हुआ देखना चाहिए।

गिंको बाइलोबा(Gingko Biloba):- गिंको बाइलोबा जड़ी बूटी दिमागी क्षमता को बढ़ाने का काम करती है। इसके अलावा यह हमारे शरीर और लिंग में रक्त के संचार में बढ़ोतरी करती हैk। ling ko lamba karne ki dawa के रूप में इसका इस्तेमाल किया जाता है।

अध्ययन में पाया गया है कि सेक्सुअल क्रियाओं में आने वाली बाधा से होने वाले अवसाद को दूर करने के लिए गिंको बाइलोबा काफी फायदेमंद होती है। यह याददाश्त को बढ़ाने में भी मदद करती है। इसके अलावा इसके कुछ हानिकारक प्रभाव भी होते हैं। यह आपको चाय की पत्ती के साथ व गोलियों के रूप में भी बाजार आसानी से मिल जाती है।

माका (Maca):- लिंग के साइज को बढ़ाने के लिए माका के पाउडर का प्रयोग किया जाता है। इसको कामोत्तेजना बढ़ाने वाली दवाई माना जाता है।

इसके अंदर ऐसे तत्व मौजूद होते हैं जो आपकी अंदरूनी शक्ति के स्तर को बढ़ाते हैं और पुरूषों के लिंग में होने वाली उत्तेजना को ठीक रखते हैं। इसके चलते इसका इस्तेमाल बड़ी संख्या में किया जाता है।

इन सभी जड़ी बूटी को मिलाकर ही लिंग बढ़ाने की दवा sultan’s night दवा को बनाया गया है, इस दवा के प्रयोग के 15 दिन बाद ही आपको इस दवा का असर दिखना शुरू हो जाएगा और इस दवा से कोई साइड इफेक्ट्स भी नहीं होंगे आपको|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *